Difference between aerobic and anaerobic respiration in hindi

वायुवीय तथा अवायुवीय श्वसन में अन्तर

⦁ श्वसन की परिभाषा – कोशिकाओं में जटिल अणुओं के कार्बन- कार्बन आबंध के ऑक्सीकरण होने पर पर्याप्त मात्रा में ऊर्जा मुक्त होना श्वसन कहलाता है ।

अथवा

जीवित जीवों या जीवित कोशिकाओं में होने वाली वे सभी ऑक्सीकरण अभिक्रियाएँ जिनमें श्वसनीय क्रियाधार पदार्थ ऑक्सीकृत होकर रासायनिक ऊर्जा मुक्त करे , श्वसन कहलाती है ।

⦁ वायुवीय तथा अवायुवीय श्वसन में अन्तर – इसमें निम्न अन्तर होते है ।

क्रं.सं. वायुवीय श्वसन अवायुवीय श्वसन
1 जब श्वसन क्रिया में ऑक्सीजन का उपयोग होता है तो उसे वायुवीय श्वसन कहते है । जब श्वसन क्रिया में ऑक्सीजन का उपयोग नहीं होता है अथवा भोज्य पदार्थों का अपूर्ण ऑक्सीकरण होता है । तो उसे अवायुवीय श्वसन कहते है ।
2 इस प्रक्रिया में श्वसनीय पदार्थों का पूर्ण ऑक्सीकरण होता है । इस प्रक्रिया में श्वसनीय पदार्थों का अपूर्ण ऑक्सीकरण होता है ।
3 सभी कार्बन CO2 के रूप में मुक्त होते है । इसमें कार्बन CO2 के रूप में मुक्त नहीं होते है ।
4 अधिक मात्रा में ऊर्जा (686 Kcal ) मुक्त होती है । इसमे कम मात्रा में ऊर्जा ( 25 Kcal या 50 Kcal ) मुक्त होती है ।
5 वायुवीय श्वसन अभिक्रिया – यह अभिक्रिया माइट्रोकॉन्ड्रिया में एंजाइस की उपस्थिति में होती है । इसकी निम्न समीकरण है –
C6H12O6 + 6O2 6CO2 + 6H2O + 686 Kcal
अवायुवीय श्वसन अभिक्रिया – इसमें एंजाइम्स की उपस्थिति में निम्न अभिक्रिया होती है जिसकी रासायनिक समीकरण निम्न प्रकार होती है –
C6H12O6 2C2H5OH + 2CO2 + 25 OR 50 Kcal
6 यह माइट्रोकॉन्ड्रिया में होता है । यह साइटोप्लाज्म ( कोशिकाद्रव्य ) में होता है ।
7 उदाहरण – यूकैरियोट जीव-जन्तु व पौधे उदाहरण – निम्न श्रेणी के पौधे व निम्न श्रेणी के जंतु ( एस्केरिस , जीवाणु ) व मानव की पेशी कोशिका ।

⦁ दहन की परिभाषा – ऐसी सरल रासायनिक अभिक्रिया जिसमें संपूर्ण ऊर्जा एक ही चरण में उष्मा के रूप में विमुक्त हो जाती है , उसे दहन कहते है ।
⦁ श्वसन और दहन में अन्तर – इसमें निम्न अन्तर होते है –

क्रं.सं. श्वसन दहन
1 यह एक जैविक क्रिया है जो सभी जीवित कोशिकाओं में संपन्न होती है । यह जीवित कोशिकाओं में संपन्न नहीं होती है ।
2 यह विशिष्ट एंजाइमों द्वारा नियंत्रित होती है । और यह अनेक छोटी-2 रासायनिक क्रियाओं की विविध श्रंखला है । यह एक सरल रासायनिक अभिक्रिया है , जिसमें एंजाइमों का अभाव होता है ।
3 ऊर्जा अनेक चरणों में निकलती है । ऊर्जा एक चरण में निकल जाती है ।
4 विमुक्त ऊर्जा का एक अंश ATP (ATP = एडिनोसिन ट्राई फॉस्फेट ) के रूप में संचित कर लिया जाता है । और शेष ऊर्जा उष्मा के रूप में विमुक्त हो जाती है । इसमें समस्त ऊर्जा उष्मा के रूप में विमुक्त हो जाती है ।
5 श्वसन शरीर के तापक्रम पर होता है । और इससे शरीर के तामान में वृद्धि हो जाती है । अधिकांश ऊर्जा की विमुक्ति तापमान एंव प्रकाश के रूप में होती है । इससे वातावरण के तापमान में वृद्धि हो जाती है ।

 

One thought on “Difference between aerobic and anaerobic respiration in hindi

  • September 25, 2019 at 11:45 am
    Permalink

    hello!,I really like your writing so so much! percentage we keep up a correspondence extra about your article on AOL? I need a specialist in this space to resolve my problem. Maybe that is you! Taking a look ahead to look you.

Comments are closed.

Open chat
1
Hi, How can I help you?