विटामिन ,Vitamin part-1

विटामिन की खोज एक प्रमुख वैज्ञानिक Casimir Funk ने 1912 में की थी । विटामिन हमारे शरीर के लिए बहुत उपयोगी है और ये बात हम सब जानते है और विटामिन के कमी से हमारे शरीर में अनेक रोग हो सकते है । घुलनशीलता के आधार पर विटामिन दो प्रकार के होते है –

1. वसा में घुलनशील विटामिन-
वसा में घुलनशील विटामिन निम्न प्रकार के होते है ।

i) विटामिन-A

अन्य नाम- Axerophthol ,Antixeropthalmic, Beeta-carotene

स्रोत- दूध , अण्डा ,मक्खन,मछली का तेल , यकृत , गाजर, समुद्रीय शैवाल ।

कार्य- दृष्टि वर्णकों का संश्लेषण । यह रोडोप्सीन का पूर्ववर्ती होता है ।

कमी से होने वाले रोग –

अ) जीरोप्थेल्मिया – इसमें कॉर्निया शुष्क हो जाती है ।
ब) रतौंधी(Nyctopia) – रात में दिखाई न देना या धुंधला दिखाई देना ।
स) किरटोमैलेकिया- त्वचा में शल्किभवन व बालों का झड़ना ।
द) डर्मेटोसिस – त्वचा का शुष्क होना ।

ii) विटामिन-D

अन्य नाम – Autirachitis,Sunshine , Calciferol

स्रोत – मच्छली का तेल , दूध, मक्खन, अण्डे, त्वचा में UV विकिरणों द्वारा संश्लेषण

कार्य – कैल्सियम व फॉस्फेट के उपापचय का नियमन । अस्थियों व दाँतों की सामान्य वृद्धि ।

कमी से होने वाले रोग –

अ) रिकेट्स- इसमें बच्चों का सूखा रोग, अस्थियाँ असामान्य हो जाती है ।
ब) ऑस्टियोमेलेसिया – यह रोग वयस्कों में पाया जाता है ,इसमें अस्थियाँ नरम हो जाती है । यह मादाओं में अधिक पाया जाता है ।
द) टिटेनी – वयस्क में ऑस्टियोमेलेसिया के कारण पेशियों में ऐंठन को टिटेनी कहते है ।

iii) विटामिन-E

अन्य नाम – Antifertility, Tocopherol

स्रोत – तेल युक्त बीजों में , हरी पत्तियों में , बिनौला तेल, सोयाबीन

कार्य- जनन में सहायक, उपाचय व पेशियों की वृद्धि ।

कमी से होने वाले रोग-

अ) बन्धयता(Sterlity) – इसमें जनन उपकला क्षतिग्रस्त
ब) पक्षाघात(Paralysis) – तंत्रिका पेशीय डिस्ट्रोफी द्वारा पक्षाघात

v) विटामिन-K

अन्य नाम – Antihaemorrhagic, phylloquinone, Nathquinone

स्रोत – अण्डा ,यकृत , पनीर, हरी पत्तियाँ , टमाटर

कार्य – यकृत में प्रोथ्रोम्बिन का जैव संश्लेषण करके रक्त स्कंदन में सहायक । इलेक्ट्रॉन वाहक के रूप में । कोएंजाइम-Q के रूप में ।

कमी से होने वाले रोग-

अ) हाइपोप्रोथ्रोम्बिनेमिया – इसके परिणामस्वरूप रक्त स्कंदन नहीं होता है व रक्त स्त्रावण होता रहता है ।

 

2 thoughts on “विटामिन ,Vitamin part-1

  • December 12, 2018 at 10:33 am
    Permalink

    Nice posts!

  • September 25, 2019 at 11:41 am
    Permalink

    Magnificent goods from you, man. I have understand your stuff previous to and you are just too wonderful. I really like what you’ve acquired here, certainly like what you are stating and the way in which you say it. You make it enjoyable and you still care for to keep it sensible. I can’t wait to read much more from you. This is actually a tremendous website.

Comments are closed.

Open chat
1
Hi, How can I help you?