Important branches of biology ,प्राणी शास्त्र की प्रमुख शाखाएँ, part-2

51. कार्डियोलोजी(Cardiology) – ह्रदय का अध्ययन
52. स्प्लेंकोलोजी(Splanchology) – विसरल अंगों का अध्ययन
53. डर्मेटोलोजी(Dermatology) – त्वचा का अध्ययन
54. गाइनेकोलोजी(Gynacology) – मादा जनन तंत्र का अध्ययन
55. राइनोलोजी(Rhinology) – नाक व घ्राण अंगों का अध्ययन
56. कोन्ड्रियोलोजी(Chondriology) – उपस्थियों का अध्ययन
57. एन्जियोलोजी(Angiology) – धमनियों व शिराओं का अध्ययन
58. फार्मेकोलोजी (Pharmecology) – औषधियों का संश्लेषण व उनके जीवों पर प्रभाव का अध्ययन
59. केलोलोजी(Kalology) – मनुष्य की सुन्दरता का अध्ययन
60. विष विज्ञान(Toxicology) – जीवों पर विषैले पदार्थों का अध्ययन
61. लिमनोलोजी(Limnology) – अलवण जल तंत्र का अध्ययन
62. ट्राइकोलोजी(Tricology) – बालों का अध्ययन
63. ऐरेनियोलोजी(Araneology) – मकड़ियों का अध्ययन
64. लेपिडोप्टेरियोलोजी(Lepidoptereology)- तितलियों व शलभ का अध्ययन
65. मेस्टोलोजी(Mastology) – स्तन ग्रंथियों व चूचकों का अध्ययन
66. नेफ्रोलोजी(Nephrology) – वृक्काणुओं का अध्ययन
67. निडोलोजी(Cnidology) – सीलेन्टरेटा का अध्ययन
68. ओडोन्टोलोजी(Odontology) – दांत व मसूड़ों का अध्ययन
69. टोरपिडोलोजी(Torpedology) – स्केट्स व रे का अध्ययन
70. कार्सिनोलोजी(Carcinology) – क्रस्टेशिया का अध्ययन
71. यूरोलोजी(Urology) – मूत्रोजनन तंत्र संबंधित रोगों का अध्ययन
72. ऐकेरोलोजी(Acarology) – माइट्स व टिक्स का अध्ययन
73. स्टोमेटोलोजी(Stomatology) – अग्रांत्र(stomodaeum) का अध्ययन
74. प्रोक्टोलोजी(Proctology) – मलाशय व गुदा का अध्ययन
75. ओरेगेनोलोजी(Organology) – अंगो का अध्ययन
76. सिन्डेस्मोलोजी(Syndesmology) – कंकाल संधियों व स्नायुओं का अध्ययन
77. अंतः स्त्राविकी(Endocrinology) – अंतः स्त्रावी ग्रंथियों का अध्ययन
78. टेक्टोलोजी(Tectology) – शरीर के संरचनात्मक संगठन का अध्ययन
79. ओन्टोजेनी(Ontogeny) – जीवन वृंत का अध्ययन
80. फिलोजेनी(Phylogeny) – जाति उद्विकास का अध्ययन
81. उपार्जिकी(Ctetology) – उपार्जित लक्षणों का अध्ययन
82. यूथेनिक्स(Euthenics) – पालन-पोषण द्वारा मानव जाति की उन्नति का अध्ययन
83. यूफेनिक्स(Euphenics) – जीन ,RNA, प्रोटीन संश्लेषण में परिवर्तन करके मानव की उन्नति का अध्ययन
84. ट्रोफोलोजी(Trophology) – पोषण विज्ञान
85. एन्जाइमोंलोजी(Enzymology)- एन्जाइमस का अध्ययन
86. प्रतिरक्षण विज्ञान(Immunology) – संक्रमण के विरूद्ध जन्तु के प्रतिरक्षी तंत्र का अध्ययन
87. जीव रसायन विज्ञान(Bio-Chemistry) – जीवों की संरचनात्मक व क्रियात्मक रसायन का अध्ययन
88. जैव भौतिकी(Bio- Physics) – जैव क्रियाओं का भौतिक सिद्धांतों के आधार पर अध्ययन
89. मनोजीव विज्ञान(Psychobiology) – जन्तुओं की मनोवृति का अध्ययन
90. आण्विक जीव विज्ञान(Molecular biology) – आण्विक स्तर पर जैव-रसायन अध्ययन
91. समुद्रीय जीव विज्ञान(Marine biology) – समुद्रीय जीवों का अध्ययन
92. लिंग विज्ञान (Sexology) – लैंगिक अंगों के कार्यों व विकारों का अध्ययन
93. प्रोटिस्टोलोजी(Protistology) – प्रोटिस्टा जगत के जीवों का अध्ययन
94. ओटो-राइनो लेरिंगोलोजी – जंतुओं के नाक ,कान व गले का अध्ययन
95. ऐरोबायोलोजी(Aerobiology) – उड़ने वाले जंतुओं की शारीरिक संरचना का अध्ययन
96. हिप्नोलोजी(Hypnology) – नींद का अध्ययन
97. आयु विज्ञान(Gerontology) – आयु का शरीर पर अध्ययन
98. जीनोकोलोजी(Genaecology) – जीवों की जीनी बनावट का अध्ययन
99. ओनीरोलोजी(Oneirology) – मनुष्य में स्वप्नों का अध्ययन
100. टेरेटोलोजी(Teratology) – ट्यूमरस का अध्ययन
101. क्रेनियोलोजी(Craniology) – क्रेनियम या कपाल या करोटी का अध्ययन
102. रेशम कीट पालन(Sericulture) – रेशम प्राप्त करने हेतु रेशम कीटों के पालन का अध्ययन
103. मधुमक्खी पालन(Apiculture) – शहद व मोम प्राप्त करने हेतु मधुमक्खी पालन का अध्ययन
104. सूअर पालन(Piggery) – सूअर से चर्बी ,मांस ,बाल आदि प्राप्त करने हेतु सूअर पालन का अध्ययन
105. मुर्गी पालन(Polutry) – मुर्गी से अण्डे व मास प्राप्त करने हेतु मुर्गी पालन का अध्ययन
106. पशु पालन(Dairy science) – दुधारू जीवों का अध्ययन
107. मत्स्य पालन(Pisciculture) – मछली पालन का अध्ययन
108. मुक्ता पालन(Pearl culture) – मुक्ता पालन द्वारा मोतियों के निर्माण का अध्ययन
109. मिरमीकोलोजी(Myrmecology) – चिंटियों का अध्ययन
110. टरमेटोलोजी(Termatology) – दीमक का अध्ययन
111. नीडोलोजी(Nidology- पक्षियों के घोसलों का अध्ययन
112. एथनोंलोजी(Ethnology) – मनुष्य की जातियों का अध्ययन
113. प्राणी चिकित्सा(Animal husbandory) – जन्तुओं के चिकित्सा , कल्याण व जनन का अध्ययन
114. फीनोलोजी(Phenology) – ऋतुओं से प्रभावित होने वाले जंतुओं का अध्ययन । उदाहरण – पक्षी प्रवास
115. ओन्कोलोजी(Oncology) – केन्सर का अध्ययन
116. ऊलोजी(Oology) – पक्षियों के अण्डों का अध्ययन
117. इटियोलोजी(Etiology) – रोगों के कारणों का अध्ययन
118. क्रोमेटोलोजी(Chromatology) – वर्णकों का अध्ययन
119. उत्तक रसायन(Histochemistry) – उत्तको की रसायनिक प्रकृति का अध्ययन
120. पीडोलोजी(Paedology) – लार्वा अवस्थाओं का अध्ययन
121. जाइमोलोजी(Zymology) – किणवन का अध्ययन
122. इकनोलोजी(Ichnology) – जीवाश्म पाद अंकण का अध्ययन

18 thoughts on “Important branches of biology ,प्राणी शास्त्र की प्रमुख शाखाएँ, part-2

  • April 5, 2019 at 2:13 pm
    Permalink

    Thanks for the terrific manual

  • April 7, 2019 at 3:06 pm
    Permalink

    I enjoy the report

  • April 8, 2019 at 11:46 pm
    Permalink

    It works really well for me

  • April 17, 2019 at 6:58 am
    Permalink

    Thank you for the terrific article

  • April 17, 2019 at 9:53 am
    Permalink

    I like the article

  • April 17, 2019 at 11:21 am
    Permalink

    Thanks for the wonderful guide

  • April 17, 2019 at 2:21 pm
    Permalink

    I spent a great deal of time to locate something such as this

  • April 17, 2019 at 5:37 pm
    Permalink

    Thanks, it’s quite informative

  • April 17, 2019 at 5:53 pm
    Permalink

    Thanks to the excellent guide

  • April 19, 2019 at 1:25 am
    Permalink

    It works really well for me

  • April 19, 2019 at 1:40 am
    Permalink

    Thanks, it is very informative

  • April 24, 2019 at 4:28 am
    Permalink

    I enjoy the report

  • April 24, 2019 at 12:32 pm
    Permalink

    This is actually helpful, thanks.

  • April 24, 2019 at 11:17 pm
    Permalink

    This is truly useful, thanks.

  • April 25, 2019 at 5:48 am
    Permalink

    I spent a lot of time to locate something like this

  • May 8, 2019 at 4:55 pm
    Permalink

    I enjoy the article

  • May 17, 2019 at 1:05 pm
    Permalink

    Thanks for the terrific article

  • September 25, 2019 at 10:49 am
    Permalink

    I like this post, enjoyed this one appreciate it for posting.

Comments are closed.

Open chat
1
Hi, How can I help you?